संतों की शीर्ष संस्था अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष बने रवींद्र पुरी

सभी साधु संतों ने महंत रवींद्र पुरी के नेतृत्व में भरोसा जताते हुए सनातन धर्म के प्रचार प्रसार के लिए तन, मन, धन से सहयोग करने का संकल्प लिया।

अरबों रुपए की संपत्ति है गुरु और शिष्य के बीच विवाद की प्रमुख वजह

मौके से मिले सात-आठ पेजों के सुसाइड नोट में नरेंद्र गिरि ने शिष्य से परेशान होने की बात लिखी थी। इसके आधार पर पुलिस ने उनके सबसे करीबी शिष्य आनंद गिरि को उत्तराखंड पुलिस की मदद से हरिद्वार में अपनी हिरासत में ले लिया है।

अखाड़ा परिषद अध्यक्ष नरेंद्र गिरि का निधन, लिखा शिष्य से हूं परेशान

पुलिस के मुताबिक घटनास्थल से सात-आठ पेज का सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें महंत ने अपने आश्रम के बारे में क्या करना है.. एक तरह से वसीयतनामा लिखा है। सुसाइड नोट में महंत ने लिखा है कि वह अपने एक शिष्य से दुखी थे।