ड्रैगन की तंग चाल- पहले हाथ बढ़ाओ, फिर सीमा पार कर भड़काओ

चीन को लगता है कि उसका पड़ोसी जितना तंग रहेगा, चीन का उतना ही फायदा होगा। छोटे देशों को वह डरा-धमकाकर और कर्ज के जाल में फंसाकर अपनी गिरफ्त में लेता रहता है तो भारत की सीमा में हमले करके या अपने सैनिकों को भेजकर तंग करने में उसे मजा आता है।

AUKUS से ड्रैगन बौखलाया, व्हाइट हाउस बोला-शक्ति संतुलन जरूरी

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने कहा, ‘‘अमेरिका, ब्रिटेन और आस्ट्रेलिया परमाणु ऊर्जा चालित पनडुब्बियों में सहयोग कर रहे हैं जो क्षेत्रीय शांति एवं स्थिरता को काफी कमजोर कर देगा।

हिंद प्रशांत क्षेत्र में चीन की ताकत को जवाब देने के लिए आया AUKUS

ऑकस की पहली बड़ी पहल के तहत अमेरिका और ब्रिटेन की मदद से ऑस्ट्रेलिया परमाणु ऊर्जा से चलने वाली पनडुब्बियों का एक बेड़ा बनाएगा, जिसका मकसद हिंद-प्रशांत क्षेत्र में स्थिरता को बढ़ावा देना है।