दिलवालों के शहर दिल्ली में दिल खोलकर जाम से जाम लड़ाइए, सरकार का तोहफा

दिल्ली में अब शराब की बिक्री लगभग रोजाना होगी। सरकार को उम्मीद है कि इससे शराब से मिलने वाले राजस्व में इजाफा होगा और आम लोगों को शराब के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा।

हिम्मत और हौसला भारत की पहचान; पीएम बोले- भारत की सामर्थ्य बनेगा युवा

भारत सरकार नवाचार, सामाजिक सेवा, शैक्षिक योग्यता, खेल, कला एवं संस्कृति और बहादुरी जैसी छह श्रेणियों में बच्चों को हर साल प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार (PMRBP) प्रदान करती है।

पंजाब में कांग्रेसी बोले: आएं चुनावी बिगुल फूंके, राहुल नानी से मिलने इटली चल दिए

राहुल ने दिल्ली में एआईसीसी मुख्यालय में पार्टी के 137वें स्थापना दिवस कार्यक्रम में भाग लेने के एक दिन बाद बुधवार को विदेश रवाना हो गए।

सियासी मल्लयुद्ध में कांग्रेसियों के दो-दो हाथ करने से पंजाब ‘हाथ’ से न निकल जाए

पार्टी के एक नेता ने कहा कि वह इस बात से स्तब्ध हैं कि वर्तमान में लड़ाई राज्य में कांग्रेस को सत्ता में बनाए रखने के लिए नहीं है, बल्कि इस बारे में है कि मुख्यमंत्री कौन बनता है।

“2019 के महाराष्ट्र चुनाव के बाद NCP भाजपा के समर्थन का कर रही थी विचार”

उन्होंने कहा, “इससे शायद शिवसेना के मन में संदेह पैदा हो गया, जिसने कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के साथ गठबंधन के लिए कदम बढ़ाया था।”

जल बचाने पर जलयोद्धाओं ने किया मंथन, कहा- मेड़बंदी मॉडल दिखाएगा रास्ता

देशभर के जल विशेषज्ञ, जल वैज्ञानिक, पर्यावरणविद, भूवैज्ञानिक, अच्छा श्रेष्ठ कार्य करने वाले जमीनी साथियों, पौधरोपण, जल संरक्षण, कृषि के क्षेत्र में अद्भुत कार्य करने वाले अंजान नायकों को सम्मानित किया गया।

ओमीक्रोन हो रहा बेलगाम: जीने की आदत बदलें या फिर जीने की आस छोड़ें

अमेरिका में अब कोरोना वायरस के ओमीक्रोन स्वरूप से संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं और पिछले हफ्ते संक्रमण के 75 प्रतिशत नए मामले इसी स्वरूप से संक्रमित पाए गए। आस्ट्रेलिया, सिंगापुर समेत कई देशों में हालात बिगड़ रहे हैं।

UP Assembly Election 2022: सभी दलों के नेताओं को आई जनता की याद

मायावती ने केंद्र और राज्य की सत्तारूढ़ सरकार पर निशाना साधते हुये कहा कि ताबड़तोड़ घोषणाएं, शिलान्यास और आधे-अधूरे कार्यों का उद्घाटन करने से किसी पार्टी का जनाधार बढ़ने वाला नहीं है।

चुनाव से पहले दिल्ली की जंग खत्म, इतिहास कहेगा- न किसान जीते न सरकार हारी

किसानों ने तीन विवादित कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले साल 26 नवंबर को दिल्ली के सीमा बिंदुओं – सिंघू, टिकरी और गाजीपुर में विरोध प्रदर्शन शुरू किया था। संसद ने 29 नवंबर को इन कानूनों को निरस्त कर दिया था, लेकिन किसानों ने अपना विरोध प्रदर्शन जारी रखा।

कांग्रेस के प्रति ममता की ‘निर्ममता’; देश की सबसे पुरानी पार्टी से दूर हो रहा विपक्ष

खुद कांग्रेस पार्टी के अंदर असंतोष की गहरी धारा बह रही है। ग्रुप-23 (G-23) के नेताओं ने तो अपना असंतोष सार्वजनिक कर ही दिया है, कुछ और नेता भी अंदर से असंतुष्ट हैं, लेकिन उनके पास दूसरा कोई आधार नहीं है, जिसका वह सहारा पा सकें।