सूखे बुंदेलखंड में पानी बचाने के लिए निकली जन चेतना जनसंवाद मेड़बंदी यज्ञ रथ

जल-जंगल-जमीन बचाने के लिए ‘बुन्देली भू-जल पंचायत’ में जुटे जलयोद्धाओं के बीच जलशक्ति मंत्री ने 60 दिवसीय जनसंवाद मेड़बंदी यज्ञ रथ यात्रा को हरी झंडी दिखाकर बांदा से उज्जैन के लिए रवाना की थी।

शीर्ष कोर्ट का निर्देश- प्रदूषण नियंत्रण के लिए आपात कदम उठाए केंद्र

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र और आसपास के क्षेत्रों में वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग अधिनियम द्वारा कुछ निर्णय किए गए हैं, लेकिन वायु प्रदूषण के जिम्मेदार कारकों को नियंत्रित करने के लिए क्या कदम उठाने जा रहे हैं, यह नहीं बताया गया है।

दिल्ली में प्रदूषण: सरकार बोली- जीने के लिए पूर्ण लॉकडाउन जरूरी

न्यायालय ने दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण में बढ़ोतरी को शनिवार को ‘आपात’ स्थिति करार दिया और राष्ट्रीय राजधानी में लॉकडाउन लागू करने का सुझाव दिया।

राजधानी दिल्ली की हवा हुई जहरीली, सांस लेना भी हुआ मुश्किल

दिल्ली में सोमवार सुबह वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 342 था। शून्य से 50 के एक्यूआई को ‘अच्छा’, 51 से 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 से 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 को ‘बहुत खराब’ और 401 से 500 के बीच ‘गंभीर’ माना जाता है।

जी-20 रोम शिखर सम्मेलन में जलवायु पर बुलंद हुई भारत की आवाज

जी-20 नेताओं ने 2021 के अंत तक कम से कम 40% तथा 2022 के मध्य तक 70% आबादी के टीकाकरण के वैश्विक लक्ष्यों को प्राप्त करने के प्रयासों पर सहमति जताई। कहा कि सदस्य देश सभी के लिए खाद्य सुरक्षा और पर्याप्त पोषण के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए प्रतिबद्ध हैं, जिसमें कोई नहीं छूटे।

पानी बचाने का जखनी मॉडल, शासन ने कहा- पूरे प्रदेश में हो लागू

जखनी के किसान पिछले 25 वर्षों से जलयोद्धा उमा शंकर पांडे के नेतृत्व में समुदाय के आधार पर खेत पर मेड़ मेड़ पर पेड़ जल संरक्षण अभियान चला रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 सितंबर को अपने मन की बात में इसका उल्लेख किया था।

गांव के वैज्ञानिक, विदेश के प्रोफेसर डॉ. रविकांत पाठक

डॉ. रविकांत पाठक न केवल एक वैज्ञानिक प्रतिभासंपन्न मेधावी उच्चशिक्षित प्रोफेसर हैं, बल्कि सोच और विचारों से सादगी, सहृदय, कोमल तथा देशकाल, परंपरा के प्रति अनुराग रखने वाले ग्राम्यभक्त भी हैं।

अपनी Immunity बढ़ानी है तो नारियल या बादाम का तेल भी लगाएं

साबुन और सैनिटाइजर के ज्यादा प्रयोग से ड्राईनेस होता है। साथ ही यह उन बैक्टिरिया को भी मार देता है जो शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं। लीवर, किडनी, फेफड़े और प्रजनन प्रणाली को भी नुकसान पहुंचाता है।

राजधानी में बारिश: गर्मी से मिली निजात, पर उमस ने किया बुरा हाल

मौसम विभाग ने ओरेंज अलर्ट जारी किया है। इस दौरान यातायात बाधित होने और निचले इलाकों में जलभराव की चेतावनी  भी दी है।

कहीं भारी बारिश तो कहीं बारिश की उम्मीद, मौसम का अलग अंदाज

मौसम विभाग का अनुमान भी संभावनाओं के साथ ही खेलता है। कहीं सही होता है तो कहीं सही होते-होते रह जाता है। इससे जो लोग भारी बारिश से परेशान हैं, वे भी और जो लोग बारिश का इंतजार कर रहे हैं, वे भी परेशान हैं।